BREAKING NEWS

मीडियाभारती वेब सॉल्युशन अपने उपभोक्ताओं को कई तरह की इंटरनेट और मोबाइल मूल्य आधारित सेवाएं मुहैया कराता है। इनमें वेबसाइट डिजायनिंग, डेवलपिंग, वीपीएस, साझा होस्टिंग, डोमेन बुकिंग, बिजनेस मेल, दैनिक वेबसाइट अपडेशन, डेटा हैंडलिंग, वेब मार्केटिंग, वेब प्रमोशन तथा दूसरे मीडिया प्रकाशकों के लिए नियमित प्रकाशन सामग्री मुहैया कराना प्रमुख है- संपर्क करें - 0129-4036474

विधानसभा चुनाव में भाजपा एक भी गोल नहीं कर पाएगी : ममता

कोलकाता| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हुगली जिले के साहगंज में सार्वजनिक सभा के दो दिन बाद, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर चौतरफा हमला करते हुए कहा कि भाजपा आगामी राज्य विधानसभा चुनाव में एक भी गोल नहीं कर पाएगी। पश्चिम बंगाल में इस साल अप्रैल-मई में हाई वोल्टेज चुनाव होने की उम्मीद है।

बनर्जी ने कहा, "बीजेपी बंगाल में एक भी गोल नहीं कर पाएगी। मैं विधानसभा चुनाव में गोलकीपर बनूंगी।"

उन्होंने इस दौरान तृणमूल के चुनाव स्लोगन 'खेला होबे (वहां खेल होगा)' को भी दोहराया।

उन्होंने कहा, " गुजरात, बंगाल पर शासन नहीं करेगा। बंगाल, बंगाल पर शासन करेगा। मोदी बंगाल पर शासन नहीं करेगा। कोई भी गुंडा बंगाल पर शासन नहीं करेगा।"

बनर्जी ने आगे कहा कि ट्रंप से भी खराब दुर्भाग्य पीएम मोदी और भाजपा का इंतजार कर रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा, "वे ट्रम्प को अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव जीतने में मदद करने के लिए गए थे। ट्रम्प के भाग्य का फैसला हो गया है। उनकी किस्मत का फैसला बहुत जल्द होगा।"

तृणमूल कांग्रेस के सुप्रीमो ने मंगलवार को पार्टी के लोकसभा सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा बनर्जी से पूछताछ के लिए भाजपा पर भी निशाना साधा।

उन्होंने कहा, "वे मेरे घर में प्रवेश कर रहे हैं और हमारी बहू को कोयला चोर कह रहे हैं। वे माताओं और बहनों को कोयला चोर कह रहे हैं। वे खुद भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। दुगार्पुर में उस होटल का मालिक कौन है जहां भाजपा नेता रहते हैं। क्या वह कोयला चोर नहीं है?"


साभार-khaskhabar.com

 

नारद संवाद

पाकिस्तान में भी है प्राचीन राम मंदिर, सोशल मीडिया पर वीडियो हुआ वायरल   

Read More

हमारी बात

होली के रंग और इसके पीछे की कहानियां  

Read More

Bollywood


विविधा

दिल्ली में फ्लाईओवर के नीचे चल रहा 'यमुना खादर पाठशाला'

Read More

शंखनाद

विदेश में तेजी से बढ़ी शहद की मांग, जानें मीठी क्रांति के लिए दिए गए आत्मनिर्भर भारत पैकेज से कैसे हुआ कमाल  

Read More