Editor's Picks

Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image

BREAKING NEWS

दिल्ली : कोरोना संकट पर PM मोदी के सामने राजनीतिक पार्टियों के फ्लोर लीडर्स ने रखी हैं ये 5 मांगें || लखनऊ : कोरोना को लेकर योगी सरकार का बडा फैसला, 15 जिले होंगे सील

न्यूयार्क। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोरोना वायरस को लेेकर WHO को आड़े हाथ लेते हुए चीन पर अधिक ध्यान देने का आरोप लगा दिया है। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन को अमेरिका बड़े पैमाने पर धन देता है। मैंने चीन के लिए यात्रा पर बैन लगाया तो वो मुझसे असहमत थे और उन्होंने मेरी आलोचना की। वे बहुत सारी चीजों के बारे में गलत थे।ऐसा लग रहा है कि उनका चीन पर ज्यादा ध्यान है। हम डब्ल्यूएचओ पर खर्च की जाने वाली धनराशि पर रोक लगाने जा रहे हैं। अमेरिका पहले' का नारा देने वाले डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि हम डब्ल्यूएचओ पर खर्च किए जाने वाले धन पर रोक लगाने जा रहे हैं। ट्रंप पहले भी संयुक्त राष्ट्र के तहत काम करने वाली एजेंसियों को निशाने पर ले चुके हैं। डब्ल्यूएचओ के लिए खर्च किए जाने वाले कितने पैसे पर रोक लगाने पर डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि मैं यह नहीं कह रहा कि मैं यह करने जा रहा हूं। उन्होंने कहा कि हम फंडिंग खत्म करने पर विचार करेंगे।  साभार-khaskhabar.com

Read More

न्यूयार्क। पूरी दुनिया में कोरोना वायरस ने कोहराम मचा रखा है। अमेरिका का सबसे ज्यादा बुरा हाल है। अमेरिका में पिछले 24 घंटे में 2000 लोगों की रिकॉर्ड मौत हो गई है। अमेरिका में अब तक 4 लाख से ज्यादा लोग इस जानलेवा बीमारी की चपेट में आ चुके हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रप ने WHO को आडे हाथ लेते हुए कहा है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन को अमेरिका बड़े पैमाने पर धन देता है। मैंने चीन के लिए यात्रा पर बैन लगाया तो वो मुझसे असहमत थे और उन्होंने मेरी आलोचना की। वे बहुत सारी चीजों के बारे में गलत थे।ऐसा लग रहा है कि उनका चीन पर ज्यादा ध्यान है। हम डब्ल्यूएचओ पर खर्च की जाने वाली धनराशि पर रोक लगाने जा रहे हैं।अमेरिका पहले' का नारा देने वाले डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि हम डब्ल्यूएचओ पर खर्च किए जाने वाले धन पर रोक लगाने जा रहे हैं। ट्रंप पहले भी संयुक्त राष्ट्र के तहत काम करने वाली एजेंसियों को निशाने पर ले चुके हैं।  साभार-khaskhabar.com

Read More

नई दिल्ली। कोरोना संकट पर अब तक सरकार की ओर से की गई तैयारियों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज विपक्ष को आधिकारिक तौर पर जानकारी देंगे। उन्होंने सर्वदलीय बैठक बुलाई है। प्रधानमंत्री मोदी इस बैठक को वीडियो कांफ्रेंसिंग से संबोधित करेंगे। तृणमूल कांग्रेस ने इस बैठक का बहिष्कार करने की बात कही है। तृणमूल कांग्रेस के सांसद और लोकसभा में पार्टी के नेता सुदीप बंदोपाध्याय ने कहा कि उनकी पार्टी के सांसद सर्वदलीय बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे, क्योंकि पार्टी मुखिया ममता बनर्जी से सरकार ने संपर्क नहीं किया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से होने वाली इस सर्वदलीय बैठक में न बुलाए जाने पर हैदराबाद के सांसद और एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने अपने एक बयान में इसे हैदराबाद का अपमान करार दिया है।  साभार-khaskhabar.com

Read More

वाश‍िंगटन। अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा है किभारत ने दवा के निर्यात को मंजूरी दी है। भारत ने अपने नागरिकों को बचाने के लिए दवा के निर्यात पर प्रतिबंध लगाया था।कोरोना वायरस की मार से बेहाल अमेरिका के राष्‍ट्रपति ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को महान नेता है। यह रूख में बदलाव तब आया है जब भारत ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा के निर्यात को मंजूरी प्रदान कर दी।अमेरिका ने 29 मिलियन दवा की डोज खरीदी है। इसमें से ज्‍यादातर दवा भारत से मिलेगी। अमेरिकी राष्‍ट्रपति ने संवाददाताओं से कहा कि भारत ने दवा के निर्यात को मंजूरी दी है। भारत ने अपने नागरिकों को बचाने के लिए दवा के निर्यात पर प्रतिबंध लगाया था। उन्‍होंने कहा कि पीएम मोदी महान हैं और बहुत अच्‍छे हैं। भारत से अभी बहुत अच्‍छी चीजें आनी बाकी हैं। उन्‍होंने कहा कि अमेरिका ने कोरोना से जंग के लिए भारत से हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की 29 मिलियन डोज खरीदी है। इससे पहले ट्रंप ने संकेत दिया है कि अगर भारत ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा के निर्यात पर से प्रतिबंध नहीं हटाया तो अमेरिका कार्रवाई कर सकता है। आपको बताते जाए कि हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन का इस्‍तेमाल कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के इलाज में किया जा रहा है। इससे पहले ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस दवा के लिए गुहार लगाई थी।ट्रंप ने कहा, 'मैंने यह नहीं कहीं सुना कि यह उनका (पीएम मोदी) फैसला था। मैं जानता हूं कि उन्‍होंने इस दवा को अन्‍य देशों के निर्यात के लिए रोक लगाई है। मैंने उनसे कल बात की थी। हमारी बातचीत बहुत अच्‍छी रही। भारत ने अमेरिका के साथ बहुत अच्‍छा व्‍यवहार किया है।'  साभार-khaskhabar.com  

Read More

नई दिल्ली। कोरोना संकट पर अब तक सरकार की ओर से की गई तैयारियों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राजनीतिक पार्टियों के फ्लोर लीडर्स के साथ बातचीत की है। इस बैठक में फ्लोर लीडर्स ने पीएम नरेंद्र मोदी के सामने पांच मांगें रख दी हैं। इसमें राज्य एफआरबीएम राजकोषीय सीमा को 3 से 5 फीसदी करने, राज्यों को उनका बकाया देने, राहत पैकेज को जीडीपी के एक फीसदी से बढ़ाकर 5 फीसदी करने, कोरोना टेस्ट को फ्री करने और पीपीई समेत सभी मेडिकल इक्विपमेंट को मुहैया कराने की मांग उठाई है। पीएम नरेंद्र मोदी के साथ टीएमसी की ओर से टीआर बालू, एआईएडीएमके की ओर से नवनीत कृष्णनन, कांग्रेस की ओर से गुलाम नबी आजाद और अधीर रंजन चौधरी, टीआरएस की ओर से नम्मा नागेश्वर राव और के केशवा राव, सीपीआईएम की ओर से ई करीम, टीएमसी की ओर से सुदीप बंदोपाध्याय, शिवेसना की ओर से विनय राउत और संजय राउत, एनसीपी की ओर से शरद पवार बात की है। इसके साथ ही अकाली दल की ओर से सुखबीर बादल, एलजेपी की ओर से चिराग पासवान, जेडीयू की ओर से आरसीपी सिंह, एसपी की ओर से राम गोपाल यादव, बीएसपी की ओर से दानिश अली और सतीश मिश्रा, वाईएसआर कांग्रेस की ओर से विजयसाईं रेड्डी और मिधुन रेड्डी, बीजेडी की ओर से पिनाकी मिश्रा और प्रसन्ना आचार्य पक्ष रखा है।  साभार-khaskhabar.com  

Read More

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना का कहर लगातार बढता जा रहा है। इस बीच सुप्रीम कोर्ट ने आज कोरोना की जांच को लेकर निजी लैब द्वारा लिए जा रहे मनमानी राशि वसूलने को केन्द्र सरकार से कहा है कि निजी लैब को कोरोना जांच के लिए पैसे लेने की अनुमति नहीं होनी चाहिए। हम इस मामले पर आदेश पारित करेंगे। जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एस रविंद्र भट्ट की पीठ ने सुनवाई के दौरान कहा निजी लैब को कोविड-19 के परीक्षण के लिए चार्ज करने की अनुमति नहीं देते हैं। सरकार को इसकी जांच मुफ्त में करनी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र की ओर से पेश सॉलिसिटर जनरल जनरल तुषार मेहता को सुझाव देते हुए कहा कि निजी लैब को जांच के लिए ज्यादा शुल्क नहीं दें। कोई ऐसा तंत्र विकसित करें जिसके तहत निजी लैब के टेस्ट राशि को सरकार वापस कर सके। सॉलिसिटर जनरल ने जवाब देते हुए कहा कि इस मामले में उचित कदम उठाएंगे। सरकार अपनी तरफ से हर संभव कदम उठा रही है। उन्होंने कहा कि 118 प्रयोगशालाओं में रोजाना 15 हजार टेस्ट हो रहे थे। इन 47 निजी प्रयोगशालाओं को जोड़ा गया। पता नहीं कितनी और चाहिए होंगी। पता नहीं है कि लॉकडाउन कब तक चलेगा।आपको बताते जाए कि 31 मार्च को सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की गई थी जिसमें सरकारी और निजी लैब में कोरोना वायरस के संक्रमण की जांच निशुल्क कराने का दिशानिर्देश क्रेंद्र सरकार को देने की मांग की थी।  साभार-khaskhabar.com  

Read More

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इसको देखते हुए योगी सरकार ने आज बड़ा फैसला ले लिया है। योगी सरकार ने 15 जिलों को पूरी तरह से सील कर दिया है। यह आदेश आज रात 12 बजे से लागू हो जाएगा। इन जिलों में 13 अप्रैल तक कोई भी आवाजाही नहीं होगी। यहां तक की सामानों की होम डिलिवरी होगी। यूपी सरकार ने जिन 15 जिलों को पूरी तरह से सील किया है, वह हैं- लखनऊ, आगरा, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, कानपुर, वाराणसी, शामली, मेरठ, बरेली, बुलंदशहर, फिरोजाबाद, महाराजगंज, सीतापुर और सहारनपुर. इन जिलों को 13 अप्रैल तक पूरी तरह से सील किए जाएंगे। योगी सरकार ने का कि इन जिलों को 13 अप्रैल तक पूरी तरह सील कर दिया गया है। इस दौरान कोई दुकानें नहीं खुलेंगी, सिर्फ आश्वयक वस्तुओं की होम डिलिवरी होगी। इसके साथ ही केवल कर्फ्यू पास वालों को घर से निकलने की इजाजत दी जाएगी। 13 अप्रैल को स्थिति की समीक्षा की जाएगी, उसके बाद आगे निर्णय लिया जाएगा।    साभार-khaskhabar.com  

Read More

लंदन। कोरोना वायरस से पीड़ित ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की हालत ज्यादा बिगडने के बाद उन्हें आईसीयू में भर्ती कराया गया है। टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने के बाद प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन 27 मार्च को सेल्फ आइसोलेशन में चले गए थे। 5 अप्रैल को उन्हें लंदन के सेंट थॉमस अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनकी हालत बिगड़ने पर 6 अप्रैल की शाम को आईसीयू में शिफ्ट कर दिया गया। डाउनिंग स्ट्रीट के प्रवक्ता ने बताया कि सोमवार दोपहर प्रधानमंत्री की हालत बिगड़ गई है, और उनकी मेडिकल टीम की सलाह पर उन्हें अस्पताल के आईसीयू में ले जाया गया है। बताया जा रहा है कि पीएम बोरिस जॉनसन सोमवार सुबह ठीक थे। लेकिन दोपहर बाद उनकी हालत बिगड़ने लगी और शाम छह बजे उन्हें आईसीयू में ले जाया गया। बोरिस जॉनसन अस्पताल में एडमिट होने से पहले प्रधानमंत्री पद की सारी जिम्मेदारी देख रहे थे। लेकिन बाद में उन्होंने विदेश मंत्री डोमनिक रॉब को इसके लिए प्रतिनियुक्त कर दिया। आपको बताते जाए कि प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की मंगेतर कैरी साइमंड्स भी कोरोना वायरस जैसे लक्षण महसूस कर रही हैं। हालांकि साइमंड्स ने बताया है कि उनका टेस्ट नहीं हुआ है और वह एक हफ्ते से आराम कर रही हैं। पिछले हफ्ते पीएम जॉनसन के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद से साइमंड्स फिलहाल उनसे अलग रही हैं।  साभार-khaskhabar.com

Read More

नई दिल्ली। दिल्ली क्राइम ब्रांच ने अब निजामुद्दीन में स्थित तबलीगी जमात के मरकज पर शिकंजा कसना प्रारंभ कर दिया है। आपको बताते जाए कि मरकज का कोरोना कनेक्शन सामने आने के बाद जमात के अमीर मौलाना साद सहित सात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो गई है। इस मामले की जांच में जुटी क्राइम ब्रांच ने आरोपियों के बैंक अकाउंट को खंगालना शुरू कर दिया है। क्राइम ब्रांच की ओर से यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि इनको कौन-कौन लोग फंडिंग कर रहे थे। इसके अलावा किन-किन संस्थाओं से जमात को चंदा मिल रहा था। पीएफआई संस्था से फंडिंग हुई या नहीं? इसकी जांच भी की जा रही है। इस बीच मौलाना साद की भी तलाश तेज हो गई है। फिलहाल वह फरार है। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने कल ही मौलाना साद को दूसरा नोटिस भेज दिया है। जिसमें 26 सवालों के जवाब मांगे गए थे।क्राइम ब्रांच ने उसके सेल्फ क्वारनटीन में होने की दलील को इस आधार पर खारिज कर दिया कि उसके पास ऑनलाइन अपनी सफाई देने का मौका है। मरकज में खाड़ी देशों से बड़ी मात्रा में फंड मिलता है, जो जांच के दायरे में है।    साभार-khaskhabar.com

Read More

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस ने अपना पैर पसार लिया है। दुनियाभर में इस बीमारी से हजारों मौतें हुई हैं। भारत में भी इस वायरस ने 114 लोगों की मौत हो गई है। देश में अब तक 4421 मामले सामने आ चुके हैं। 24 घंटे के अंदर 354 केस पॉजिटिव सामने आए हैं। अच्छी बात ये है कि 325 लोग इस जानलेवा वायरस को मात देकर अपने घर जा चुके हैं। इस वायरस से निपटने के लिए देश में 21 दिनों का लॉकडाउन लागू है। कोरोना की महामारी ने मुंबई में अब तक 34 लोगों की जान ले ली है। बीते चौबीस घंटे में 4 लोग कोरोना की वजह जान गंवा चुके हैं। जुहू में रहने वाले फिल्मी सितारे भी कोरोना से घबराए हुए हैं। यहां फिल्मकार करीम मोरानी की दो बेटियां कोरोना पॉजिटिव मिली हैं। वहीं, बांद्रा के कलानगर इलाके में मातोश्री के पास एक चाय बेचने वाली महिला कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं। पूरे इलाके को सील कर बीएमसी ने सैनिटाइजेशन का कर दिया है। सिर्फ चौबीस घंटे में ही मुंबई में कोरोना से 4 लोगों की मौत हो गई है।    साभार-khaskhabar.com

Read More

इस्लमाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेरबदल किया है। मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में चीनी संकट की वजह से यह फेरबदल किया है। प्रधानमंत्री कार्यालय से सोमवार रात जारी बयान के अनुसार, मुहम्मद हम्माद अजहर को उद्योग मंत्री बनाया गया है। इससे पहले वह आर्थिक मामलों का मंत्रालय का कामकाज देख रहे थे। अब तक राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मंत्रालय देख रहे मखदूम खुसरो बख्तियार को आर्थिक मामलों का विभाग सौंपा गया है। सैयद फखर इमाम को राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई है। प्रधानमंत्री ने सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार मंत्री खालिद मकबूल सिद्दीकी का इस्तीफा मंजूर कर लिया है। उनकी जगह सैयद अमीन उल हक को नया मंत्री बनाया गया है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने बाबर अवान को संसदीय मामलों पर प्रधानमंत्री का नया सलाहकार नियुक्त किया है। बयान में इस फेरबदल के कारणों का जिक्र नहीं किया गया है। हालांकि मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में चीनी संकट की वजह से यह फेरबदल किया है। इसकी वजह से चीनी के दाम काफी बढ़ गए हैं और देश आवश्यक वस्तुओं की कमी हो गई है। मंत्रिमंडल में यह फेरबदल ऐसे समय में हुआ है जब देश कोरोनावायरस से मुकाबले के लिए देशव्यापी अभियान चला रहा है। पाकिस्तान में कोविड-19 के अबतक 3,861 मामले आ चुके हैं और 54 लोगों की मौत हो चुकी है।  साभार-khaskhabar.com

Read More

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भारत से दवाई की सहायता मांगी है। इसके साथ ही ट्रंप ने कहा कि अगर भारत ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन पर से प्रतिबंध नहीं हटाया तो अमेरिका भी जवाबी कार्रवाई कर सकता है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस पर ट्वीट करते हुए लिखा है कि मित्रों’ में प्रतिशोध की भावना? भारत को सभी देशों की सहायता के लिए तैयार रहना चाहिए लेकिन सबसे पहले जान बचाने की सभी दवाइयां और उपकरण अपने देश के कोने-कोने तक पहुंचना अनिवार्य है। वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति को जवाब देते भारत के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि पहले भारत में इसकी जरूरतों और स्टॉक को परखा गया है और उसी के बाद सर्वाधिक प्रभावित देशों को सहायता पहुंचाने का फैसला लिया है आपको बताते जाए कि अमेरिका में 10,876 लोगों की कोरोना से मौत हो गई और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपनी जनता को केवल कोरी दिलासा दे रहे हैं।  साभार-khaskhabar.com

Read More

कोरोना विशेष

दिल्ली, गुरुग्राम, फरीदाबाद, से आये हुए ये सभी लोग झाँसी, कानपुर, एटा, फिरोजाबाद, इटावा, सवाई माधोपुर इनमे से राजेश से बात हुयी उसने बताया की मजदूरी का काम करते है मालिक ने काम बंद कर दिया ठेकेदार ने पैसे नहीं दिए इसलिए घर की तरफ निकल लिए...... वैसे इन्हे कही कही ट्रकों और खुली गाडियों ने भी ले जाया जा रहा है...... ऐसे ही सैकड़ो लोगों ने अपनी अलग अलग बात कही.. मथुरा की जनता का आभार जताया की हर थोड़ी दूरी पर लोग खाना दे रहे है। ... वही सरकार से गुहार लगायी की हमे हमारे घरो तक पहुँचाये क्योकि हमारे साथ महिलाएं व बच्चे है।  

Read More

तीसरी आंख

जयपुर। प्रताप नगर थाना इलाके में स्थित एक अपार्टमेंट की चौथी मंजिल से बुधवार सुबह पिता ने गोदी में बेटे को लेकर छलांग लगा दी। आत्महत्या के प्रयास के दौरान वह गंभीर रूप से घायल हो गया, जबकि मासूम बेटे की मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल पिता को इलाज के लिए भर्ती कराया है। मृतक बेटे का जयपुरिया अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। पुलिस ने घायल पिता के पास से सुसाइड नोट भी बरामद किया है। एसएचओ पुरुषोत्तम मेहरिया ने बताया कि मूलतः सवाई माधोपुर हाल गलता गेट निवासी रमेश (40) पुत्र जगदीश गुप्ता ने आत्महत्या का प्रयास किया है। रमेश अपनी पत्नी और दो बच्चों के साथ मंगलवार को प्रताप नगर इलाके में रावी अपार्टमेंट में रहने वाले सास ससुर के पास आया था। बुधवार सुबह उसकी 3 वर्षीय बेटी अपनी मां और नाना नानी के साथ खेल रही थी। सुबह करीब 9:30 बजे उसने अपने 10 वर्षीय बेटे रोनक को गोद में उठाया और चौथी मंजिल पर स्थित अपने घर की बालकनी मे ले गया। गोद में बेटे को उठाकर रमेश ने छलांग लगा दी। पिता पुत्र के धरातल पर गिरते ही धमाके की आवाज से स्थानीय लोगों में सनसनी फैल गई। सुसाइड नोट भी लिखा मिला स्थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने एंबुलेंस की मदद से घायल पिता पुत्र को अस्पताल पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने बेटे रोनक को मृत घोषित कर दिया। जबकि पिता रमेश का गंभीर अवस्था में इलाज चल रहा है। पुलिस का कहना है की प्रथम दृष्टया रमेश के मानसिक रूप से बीमार होने का पता चला है। उसकी जेब से सुसाइड नोट भी मिला है जिसमें उसने लिखा है की बीमारी से दुखी होकर आत्महत्या कर रहा हूं इसमें किसी को भी परेशानी किया जाए।  साभार-khaskhabar.com

Read More

Bollywood

दर्शन